18 मार्च 2010

करियर विकल्प - एनजीओ मैनेजमेंट में कैसे बनाएँ करियर?

वर्तमान दौर में एनजीओ (गैर सरकारी संस्था) का प्रबंधन एक महत्वपूर्ण कार्य है। एनजीओ द्वारा प्रतिवर्ष अरबों रुपए की सुविधाएँ लाखों-करोड़ों लोगों तक पहुँचाई जाती हैं और कहीं न कहीं एनजीओ प्रबंधन में ढिलाई की बात भी सामने आती रहती है। यही कारण है कि एनजीओ प्रबंधन संबंधी प्रशिक्षण से इस क्षेत्र को नई दिशा मिल रही है।

वर्तमान में देश के विभिन्न शिक्षण संस्थानों द्वारा पीजी डिप्लोमा इन एनजीओ मैनेजमेंट पाठ्यक्रम संचालित किया जा रहा है। इस पाठ्यक्रम में प्रवेश हेतु अभ्यर्थी को स्नातक परीक्षा 50 प्रतिशत अंकों के साथ उत्तीर्ण करना आवश्यक है। इस कोर्स को करने के बाद एनजीओ मैनेजर के लिए सामुदायिक सेवा प्रदाता, रिसर्च फैलो इन एनजीओ वित्त तथा मानव संसाधन के गैर सरकारी संस्थान में मैनेजर, फिक्की, मिनिस्ट्री ऑफ यूथ अफेयर्स, अमर ज्योति चैरिटेबल ट्रस्ट आदि में रोजगार के उज्ज्वल अवसर हैं।

ग्रामीण चिकित्सा क्षेत्र, एड्स, महिला सशक्तिकरण, सूखा या बाढ़ पुनर्वास सेंटर, बच्चों की शिक्षा जैसे अनेक क्षेत्रों में भी एनजीओ प्रबंधकों के लिए उजले अवसर हैं। एनजीओ मैनेजमेंट का कोर्स कराने वाले प्रमुख संस्थान हैं- लखनऊ विश्वविद्यालय, लखनऊ, भारतीय उद्यमिता विकास संस्थान, गाँधीनगर (गुजरात), अन्नामलाई विश्वविद्यालय, अन्नाामलाई नगर, तमिलनाडु, मदुरै कामराज विश्वविद्यालय, मदुरै, एमिटी विश्वविद्यालय, नोएडा।

Related Posts with Thumbnails