19 मार्च 2010

घरेलु उपचार 5

साधारण खांसी
· 2 ग्राम हल्दी पाउडर फांकने से खांसी दूर हो जाती है।
· अनार का छिलका चुटकी भर नमक के साथ चूसना लाभप्रद है।
· भुनी तथा कच्ची बराबर-बराबर अजवायन पीसकर शाम को फंकी मारे, पानी न पियें, खाँसी में लाभ होगा।

सूखी खांसी
· खाली पान में अजवायन रखकर चूसना हितकर है।

बलगमी खांसी
· 5 ग्रांम तुलसी के पत्तों के रस में 4 दानें बड़ी इलायची को पीसकर शहद के साथ चाटना लाभकारी है।

पुरानी खांसी
· तुलसी के पत्तों के रस में अदरख तथा पान का रस, कालीमिर्च, काला नमक तथा शहद मिलाकर चाटने से आराम होता है

पेट के कीड़े
· अजवायन के चूर्ण में समान मात्रा में काला नमक पीसकर मिलायें। इस चूर्ण को आधा या चौथाई चम्मच भर मात्रा में रात को सोने से पहले गरम पानी से देने से पेट के कीड़े मर जाते हैं। बालकों के लिए यह चूर्ण बेहतर है।

गला बैठना
· पालक के पत्ते थोड़े पानी में उबालकर लुगदी को गले में बांधने से गले में जलन व सूजन से शीघ्र राहत मिलती है।
· गले की खराश मिटाने के लिए सौ ग्राम पानी में दस ग्राम अनार के छिलके उबालें, इसमें दो लौंग भी पीस कर डाल दें। जब पानी आधा रह जाये तब 25 ग्राम फिटकरी डाल कर गुनगुने पानी से गरारा करना चाहिए।

नाक के रोग
· यदि नाक में फुंसी हो गई हो तो उस पर इलायची का चूर्ण पीसकर लगाया करें। इससे वह पकने-फूटने से पहले ही दब जाती है।
· नाक में फुंसी हो जाये तो बरगद के दूध में रुई को गीला कर फुंसी पर लगाना चाहिए। बरगद के दूध से कुछ समय के लिए पीड़ा व जलन होगी लेकिन फूंसी सूख जाती है।

जोड़ों का दर्द
· सुबह बासी मुँह लहुसन के प्रयोग से पेट के रोग, दाँत और जोड़ों के दर्द में लाभ होता है।

मधुमेह
· मेथी के प्रयोग से मधुमेह में कमी आती हैं।

शरीर दर्द
· नित्य शाम को थकावट व शरीर दर्द हो जाता हो तो गोमूत्र के साथ एक चम्मच त्रिफला वूर्ण नित्य सेवन करें।

Related Posts with Thumbnails