01 फ़रवरी 2012

"राष्ट्रीय मतदाता", पढ़ें और शेयर करें

युवा मतदाताओं को जिम्मेदार नागरिक का बोध कराने और राजनीतिक प्रक्रिया में भाग लेने पर गर्व का अनुभव करने के लिये सरकार ने ‘‘राष्ट्रीय मतदाता दिवस" के रूप में विशेष अभियान शुरु किया है, जिसे हर साल 25 जनवरी को मनाया जायेगा। देशभर में द्वितीय राष्ट्रीय मतदाता दिवस 25 जनवरी को मनाया जाएगा। समारोह में भारत निर्वाचन आयोग का बैज "मतदाता होने का गर्व है-मतदान के लिए तैयार" का भी वितरण किया जाएगा।

* सब उम्मीदवार भ्रष्ट हैं और इस लिए मैं वोट नहीं दूंगा/दूँगी, अगर आप ऐसा सोचते हैं तो आप एक बार फिर इन भ्रष्ट व्यक्तियों की मदद कर रहे हैं सत्तासीन होने में।

* नकारात्मक मतदान:

अब यह है हमारा हथियार -
आईये इस के बारे में जाने -कि कैसे आप अपने गुस्से को दर्ज करवा सकते हैं और इन चुनावों कि तस्वीर भी बदल सकते हैं।

1969 कानून की धारा "49-0" के अनुसार, आप मतदान केंद्र पर जा कर अपनी पहचान की पुष्टि करा कर, अपनी ऊँगली को चिन्हित कराकर, पीठासीन चुनाव अधिकारी को बता सकते है कि आप किसी को भी वोट नहीं देना चाहते हैं।

जी हाँ, ऐसी सुविधा उपलब्ध है परन्तु इन नेताओं ने इसे कभी ज़ाहिर नहीं होने दिया है और यह सुविधा है - धारा "49-0"

** आप को वहां जा कर क्यूँ कहना है - मैं किसी को वोट देना नहीं चाहता/चाहती क्योंकि, अगर किसी वार्ड के चुनाव में, एक उम्मीदवार अगर 123 वोटो से जीतता है और उसी वार्ड में 49-0 के वोट 123 से ज़्यादा पड़ते हैं तो उस वार्ड का चुनाव रद्द माना जाएगा और वहां पुनर्मतदान होगा। यही नहीं वहां के उम्मीदवारों की उम्मीदवारी भी रद्द मानी जायेगी और वे चुनाव में फिर से खड़े नहीं हो सकते क्यूंकि लोगों ने उन के बारे में अपना रवैया स्पष्ट कर दिया ऐसा माना जाएगा।

यह राजनीतिक पार्टियों में भय पैदा करेगा और वे गलत लोगों को उम्मीदवार बनाने से परहेज़ करेंगे और अच्छे लोगों को चुनाव मैदान में उतारेंगे। इस से हमारी राजनैतिक प्रणाली में बदलाव आएगा।
यह एक आश्चर्य का विषय है की हमारे 'चुनाव आयोग' ने इस अचूक हथियार के विषय में जनता को क्यों नहीं शिक्षित किया ??

# ॥ कृपया इसे ज़्यादा से ज़्यादा लोगों के मध्य पहुंचाएं/साझा करें ॥ #

यह भारत में भ्रष्ट दलों के खिलाफ अद्भुत हथियार हो सकता है, अपनी शक्ति/ताकत दिखाईये, अपनी इच्छा को व्यक्त कीजिये कि आप किसी को भी वोट नहीं देना चाहते, यह ही आप का सब से बड़ा हथियार है, वोट देने से भी ज़यादा बड़ा हथियार।
अपने इस हथियार को प्रयोग में लाइए ........इस मौके को अपने हाथ से ना जाने दीजिये।

अब इस बार या तो सही व्यक्ति को चुनिए या फिर कोई और चारा ना हो तो, सही उम्मीदवार न हो तो, मौका हाथ से न जाने दीजिये और वोट न देने के अधिकार का उपयोग कीजिए। (49-0)

आईये एक भ्रष्टाचार मुक्त भारत के निर्माण की ओर अपने कदम बढायें....!!
वोट जरूर डालें.....!!

॥ जय हिन्द ॥ जय जय माँ भारती ॥ वन्दे मातरम् ॥

Related Posts with Thumbnails