25 मार्च 2011

समय का चक्र घुमाओ

हर सफल इंसान की सफलता के पीछे उसकी कड़ी मेहनत और लगन तो होती ही है, उससे ज्यादा जरूरी उसका 'टाइम मैनेजमेंट' होता है। अगर किसी भी व्यक्ति को सफलता का 'स्वाद' चखना है, तो उसे समय के चक्र को अपने हाथ में रखना होगा, नहीं तो समय तो निकलेगा ही सफलता से भी कोसों दूर चला जाएगा। एक तरीके से देखा जाए तो टाइम मैनेजमेंट का हर इंसान की जिन्दगी में बड़ा महत्व है, जिसे समझना बहुत जरूरी है। अक्सर लोग भागदौड़ में रहते हैं? कार्यस्थल पर जल्दी पहुँचते हैं और देर तक रूकते हैं? शनिवार और रविवार को भी काम पर रहते हैं? लगातार थकान और चिडचिडापन महसूस करते रहते हैं? स्टूडेंट में भी यही समस्या देखी जाती है। विशेषज्ञ कहते हैं की छात्र-छात्राएं परीक्षा के समय काफी हडबडी में होते हैं। कारण इन लोगों में भी समय को मैनेज करने की क्षमता नहीं होती है।
/
इसलिए समय  को मैनेज करना उतना ही जरूरी है, जितनी जिन्दगी में सफलता। टाइम मैनेजमेंट के सूत्रों को अपने जीवन में अपनाएं और देखिये कि कैसे कार्यस्थल पर और निजी जिन्दगी में भी सारी चीजें आपके नियंत्रण में आ जाती है।



1.   योजनाबद्ध रूप से काम करना टाइम मैनेजमेंट की पहली शर्त है, लेकिन सिर्फ बड़ी-बड़ी योजनाएं ही न बनाएं, बल्कि उन्हें लागू भी कीजिये और उन पर कायम भी रहिये। 
2.   ध्यान रहे कि आपकी योजना वास्तविकता के बहुत करीब हों, जिसमें किसी किस्म के गैर जरूरी व्यवधान आने की गुंजाइश न रहे। परीक्षा के समय अपने विषयों के हिसाब से ऐसी योजना बनाएं जिससे आपको अतिरिक्त मेहनत न करनी पड़े। 
3.    योजना के प्रति विस्तृत नजरिया अपनाएं। परिवार, दोस्तों, शौक, मनोरंजन, वर्जिश और घूमने फिरने के लिए बचाकुचा समय देने की बजाय इन कामों के लिए अलग से समय निकालें। 
4.   फुर्सत के पल समय की बर्बादी नहीं होते, बल्कि पहले से निर्धारित आराम का समय आपको चीजों को तरतीब में रखने और आपकी कार्यक्षमता को बढाने में मददगार होता है। 
5.    सभी कामों को तयशुदा समय में पूरा करें। किसी काम को अच्छी तरह से करना एक बात है और उसे पूरा करने के तनाव में बार-बार योजना देखना और परेशान रहना दूसरी बात। 
6.    ना कहना भी एक योग्यता है, इसके अभाव में आप बहुत ज्यादा जिम्मेदारियां ओढ़ते चले जाते हैं और इस कारण आपकी सोची-समझी योजनाएं धराशायी हो जाती हैं। इसका सरल अर्थ है काम को लेकर तनाव न पालें। 
7.    अपनी प्राथमिकताएं निर्धारित करें और उनके महत्व तथा अनिवार्यता को ध्यान में रखते हुए उन्हें क्रम में रखें। सबसे महत्वपूर्ण काम को सबसे पहले हाथ में लें, उसके बाद दूसरे नंबर को और इस तरह कम महत्व के काम की और बढ़ते जाएं। 
8.    समय के साथ काम करने से आपकी आँफिस या काम करने की जगह अच्छी ईमेज बनेगी। 
9.    काम समय के अन्दर तो करें, लेकिन जल्दबाजी में बिगड़ना नहीं चाहिए। 
10.  समय पर काम होने से आपको गलतियाँ सुधारने का समय मिलेगा। 


Related Posts with Thumbnails